घाटशिला में आयोजित पीएम मोदी के चुनावी सभा में उमड़ा जनसैलाब , कहा विपक्ष का तरीका है झूठ बोलो, जोर से बोलो, बार-बार बोलो, इधर भी बोलो, उधर भी बोलोघाटशिला में आयोजित पीएम मोदी के चुनावी सभा में उमड़ा जनसैलाब , कहा विपक्ष का तरीका है झूठ बोलो, जोर से बोलो, बार-बार बोलो, इधर भी बोलो, उधर भी बोलो

19 May 2024,जमशेदपुर । भाजपा प्रत्याशी विद्युत महतो के समर्थन में घाटशिला पहुंचे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सबसे पहले रंकणी की मिट्टी को प्रणाम किया । पीएम ने सभा के दौरान जब मंच पर चढ़े तो संबोधन का शुभारंभ मां रंकणी के इस मिट्टी को प्रमाण कर किया, लेकिन अपने संबोधन के दौरान मोदी बार बार जमशेदपुर का नाम लेते रहे थे लेकिन जहां सभा घाटशिला में हो रही थी, उस स्थान का नाम अपने 27 मिनट के संबोधन के दौरान एक बार भी नही लिया. इससे लोगों में निराशा देखने को मिली. लोगों को कहना था कि घाटशिला की धरती शुरु से ही एतिहासिक रही है, यहा पांच पांडव जैसे सुरमाओ का पैर पड़ा था, यहां के तांबा का उपयोग राम मंदिर जैसे पावन मंदिर में उपयोग हुआ, इस सब के वावजूद घाटशिला के नाम का जिक्र सभा के दौरान मोदी को नही करना लोगों को अच्छा नही लगा.

imagename

धालभूमगढ़ में एयरपोर्ट खोलने को लेकर जगा गये उम्मीद

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने सभा में जिक्र करते हुए कहा कि केन्द्र सरकार धालभूमगढ़ में एयरपोर्ट खोलना चाहती है लेकिन राज्य सरकार बार बार कुछ ना कुछ अड़चन डालकर शुरु नही होने दे रही है. क्योंकि राज्य सरकार नही चाहती की झारखंड का विकास हो. लेकिन केंद्र सरकार धालभूमगढ़ मे एयरपोर्ट बनाने को लेकर पहल जरुर करेंगे. मोदी के इस संबोधन से लोगों में यह उम्मीद जगने लगी है कि चुनाव के बाद धालभूमगढ़ में एयरपोर्ट बनाने को लेकर केन्द्र सरकार जरुर पहल करेगी. पीएम जमशेदपुर लोकसभा से भाजपा प्रत्याशी विद्युत वरण महतो के पक्ष में प्रचार करने घाटशिला पहुंचे थे। पीएम ने एनडीए प्रत्याशी विद्युत वरण महतो को जिताकर देश हित में मोदी के हाथ मजबूत करने को कहा । सभी लोगों ने हाथ उठाकर विद्युत महतो को जीत दिलाने का भरोसा दिया । वहीं पीएम ने विपक्षी पार्टियों पर कटाक्ष करते हुए हेमंत सोरेन का नाम लिए बगैर कहा कि यहां तो लूट ऐसी है कि इनलोगों ने सेना की जमीन तक नहीं छोड़ी। सोच लीजिए चोरी की कैसी आदत लगी है। वहीं राहुल गांधी का नाम लिए बिना कहा कि शहजादे की भाषा माओवादियों जैसी है, वो उद्योग और निवेश का विरोध करते हैं। कांग्रेस भ्रष्टाचार की जननी है। जेएमएम-कांग्रेस ने केवल अपनी तिजौरियां भरी हैं।

कांग्रेस से देश के संविधान को खतरा है। ओबीसी-पिछड़ों के आरक्षण को ये छीनना चाहते हैं। इन लोगों ने कई घोटाला किया और घोटालों के रिकॉर्ड बनाए। पीएम ने राजद पर हमला करते हुए कहा कि नौकरी के बदले गरीब लोगों से पैसा लिया गया। गरीब आदिवासियों की जमीन हड़पी गई । नोटों के ढेर जो बरामद हुए हैं, वो पैसे किसके हैं। पीएम मोदी ने कहा कि ये सारे पैसे आपके हक का पैसा है। भोले-भाले आदिवासी, दलितों और पिछड़ों का पैसा है। क्या ये लोग काली कमाई में से एक भी रुपया आपके बच्चे को देते क्या । विपशी दलों और मौजूदा सरकार पर निशाना साधते हुए पीएम ने कहा कि झारखंड खनिज संपदा में उतना सबल है, लेकिन यहां इतनी गरीबी क्यों है। झारखंड का नाम सुनते ही नोटों के ढेर की बात याद आती है। कांग्रेस और झामुमो वालों ने अपने घरों में काली कमाई जमा कर रखी है। कांग्रेस और झामुमो और राजद ने हमारे झारखंड को हर मोर्चे पर लूटा है। पीएम ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि आपका उत्साह बता रहा है कि 4 जून को परिणाम क्या आने वाला है। जमशेदपुर केवल एक शहर नहीं, बल्कि मिनी हिंदुस्तान है। सभा के बीच में कई लोग मोदी के फोटो और स्केच लेकर लहरा रहे थे । पीएम ने अपनी कलाकृति के पीछे उन्हें अपना नाम पता लिखकर देने के लिए एसपीजी वालों से कहा। पीएम ने कहा कि शहजादे वायनाड से भागकर रायबरेली गए हैं और सबको बोल रहे हैं, ये मेरी मम्मी की सीट है। अरे कोई बच्चा भी स्कूल जाता है तो नहीं कहता कि ये मेरे पापा का स्कूल है। भले ही वो स्कूल में पढ़ाते हैं। उनकी मम्मी भी कह रही हैं कि मैंने अपना बेटा सौंप दिया है। लोग पूछते है कि बेटे को रायबरेली देने आई हो, लेकिन कोविड के समय क्या एक बार भी हमारा हाल पूछा था। ये कोई पॉलिटिक्ल स्टेटमेंट नहीं है। ये मेरी उनको चुनौती है। क्योंकि शहजादे उद्योग का विरोध करते हैं, निवेश का विरोध करते हैं। उनके राज्यों का क्या होगा। कौन उद्योगपति वहां उद्योग लगाएंगे। मैं उन राज्यों के नव जवानों से पूछता हूं कि शहजादे की भाषा से यहां कौन उद्योग लगाएगा। उद्योगपति भी नहीं आ सकेंगे। वहीं पीएम ने कहा कि विपक्ष का तरीका है झूठ बोलो जोर से बोलो, बार बार बोलो , इधर भी बोलो उधर भी बोलो। वहीं झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री सह भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि जिस प्रकार से झारखंड में लूट मची है या किसी से छुपी नहीं है मंत्री के नौकर के घर से करोड़ रूपया मिल रहा हैं। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संबोधन से पूर्व केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा किए गए कार्यों से आंतरिक तथा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर विकास हुआ है चाहे आर्थिक क्षेत्र में हो या आईटी क्षेत्र में विकास का डंका पूरे देश में ही नहीं विदेश में भी बज रहा है. रेलवे से लेकर नेशनल हाईवे तक की चौमुखी विकास हुआ है. झारखंड खनिज संपदा से भारत है इसके बावजूद यहां के लोग गरीब हैं इसका कारण है कि विरोधी दलों को विकास की सोच ही नहीं है।
वहीं पूर्व उपमुख्यमंत्री सुदेश महतो ने मऊभंडार में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि महागठबंधन को लोकसभा चुनाव के लिए प्रत्याशी ही नहीं मिला रहा था. जमशेदपुर लोकसभा से अंतिम समय में एक ऐसे व्यक्ति को प्रत्याशी बनाया जो वर्तमान में बहरागोड़ा से विधायक हैं उनके ऊपर कई मामले दर्ज है. इसी तरह पूरे देश में यही हाल है. झारखंड सरकार की गलत नीतियों के कारण पूरे राज्य में विकास कार्य ठप है. सिर्फ लूट मची हुई है कहीं बालू की लूट तो कहीं लकड़ी की लूट तो कहीं जमीन की लूट हो रही है. विकास को लेकर सरकार की नीति सिद्धांत ही नहीं है.

प्रधानमंत्री की सभा में मोदी के नारे से गूंज उठा पंडाल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जनसभा में मोदी मोदी के नारे से पूरा पंडाल गुंजायमान हो रहा था । लोग सुबह 8 बजे से ही पंडाल में प्रवेश करना शुरू कर दिया था .10 बजते बजते तक पूरा पंडाल जन समूह से उमड़ पाड़ा. काफी संख्या में लोग पंडाल के बाहर चिलचिलाती धूप में भी खड़े होकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन सुना. सुरक्षा की दृष्टिकोण से सुरक्षा में तैनात पुलिस पदाधिकारी एवं जवानों ने लोगों को पानी की बोतल पंडाल के अंदर ले जाने के अनुमति नहीं दी इसके कारण गर्मी में पानी पीने के लिए लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा. इसके बावजूद आजसू तथा भाजपा के समर्थक विभिन्न वेशभूषा में सभा स्थल पहुंचे थे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर लोगों में उत्साह चरम पर था. मोदी के मंच पर आते मोदी मोदी के नरा से पूरा पंडाल गुंज उठा. सभा समाप्त होने के बाद पूरी सड़क पर जन सैलाब दिखाई पड़ा. कई बच्चों ने फोटो तथा कट आउट लेकर सभा में पहुंचे थे सभी पोस्टरो को पीएम ने एसपीजी से कलेक्ट कराया उन्होंने कहा कि जिसका भी कट आउट है वह पीछे नाम और पता लिखकर दे मैं उन्हें चिट्ठी लिखूंगा. इसके बाद तो मोदी मोदी के नारे से पूरा पांडाल गूंज उठा. पीएम नरेंद्र मोदी की सभा में महिलाओं में भी उत्साह देखा गया. अपने छोटे छोटे बच्चों को लेकर भी महिलाएं दिखी. वंही कई महिलाएं कमल फूल वाली साड़ी पहनकर पहुंची थी. उपस्थित महिलाएं किसी भी हाल में पीएम मोदी को एक झलक देखना चाहती थी. पंडाल में भारी उमस के बावजूद मंच के पास धीरे-धीरे बढ़ने का प्रयास कर रही थी.

टाइट थी सिक्योरिटी, महिलाओं के पर्स की हुई तलाशी

पीएम की सभा में मेटल डिटेक्टर से होकर लोगों जाने दिया गया. सभा में आने वाली महिलाओं के पर्स की तलाशी महिला पुलिस द्वारा की गई. सभा स्थल में पानी का बोतल ले जाने पर भी रोक लगाई गई थी.

चॉपर दिखा तो लगे जय श्रीराम और मोदी-मोदी के नारे

पीएम का चॉपर 11 बजे मऊभंडार पहुंचा. उपस्थित लोगों ने चॉपर देखकर जय श्रीराम और मोदी-मोदी के नारे लगाने लगे. सारा मैदान मोदी-मोदी के नारों से गूंज उठा.

मोदी से सभी को थी आस पर बंद कंपनी के मुद्दे पर नहीं की बात

प्रधानमंत्री मोदी के आने से लोगों को यह उम्मीद थी कि घाटशिला, मुसाबनी एवं जादूगोड़ा क्षेत्र में जितने भी माइंस पिछले चार पांच वर्षों से बंद पड़े है, और क्षेत्र के लगभग 20 हजार से अधिक लोग प्रत्यक्ष अप्रत्यक्ष रुप से बेरोजगार है. उनके बीच उम्मीद की किरण जगाने को लेकर अपने सभा के दौरान जरुर कोई घोषणा करेंगे, लेकिन कंपनी खोलने की घोषणा तो दूर बंद कंपनी के बारे में एक बार भी मंच से जिक्र नही किया. आश्चर्य की बात तो यह है कि जिस मैदान में मोदी की सभा हो रही थी, वह भी एचसीएल , आईसीसी कंपनी की है जो पिछले पांच साल से बंद पड़ी है. इससे सभा में आये लोगों को काफी निराशा हुई और लोगों के यह कहते सुना गया कि मोदी को कंपनी बंदी के बारे में संभवत: स्थानीय सांसद ने जानकारी ही नही दिया होगा. मोदी के यहां से चले जाने के बाद अब कंपनी कभी खुलेगी कम ही उम्मीद है, क्योंकि मोदी उम्मीद की अंतिम किरण थे. जानकारी के अनुसार वर्ष 2019-2020 से ही मउभंडार एचसीएल फैक्ट्री, सुरदा माइंस, केंदाडीह माइंस, पाथरगोड़ा माइंस, राखा माइंस मुसाबनी कंस्ट्रेटर प्लांट आदि पुरी तरह बंद है इन माइंसों को मिलाकर लगभग 15 से 20 हजार लोग बेरोजगार हो चुके है.मंच का संचालन जिला परिषद् चेयरमैन बारी मुर्मू ने किया । वहीं प्रदेश भाजपा अध्यक्ष बाबूलाल मुर्मू ने स्वागत भाषण दिया । वहीं विद्युत वरन महतो और नेता प्रतिपक्ष अमर कुमार बाऊरी ने पीएम को जनजातीय टोपी भेंट की । आजसू सुप्रीमो सुदेश महतो और केन्द्रीय जनजाति विकास मंत्री अर्जुन मुंडा ने पीएम को ओल चिकि लिपि के जनक पंडित रघुनाथ मुर्मू का तैल चित्र भेंट किया । इस मौके पर मंच पर भाजपा ग्रामीण जिलाध्यक्ष चंडीचरण साहू, वरिष्ठ भाजपा नेता अनिल मोदी, दिनेश साव, पद्मश्री जमुना टुडू, पूर्व विधायक मेनका सरदार, डॉ दिनेशानंद गोस्वामी, राजकुमार श्रीवास्तव, भाजपा महानगर अध्यक्ष सुधांशु ओझा, देवेन्द्र सिंह , मुरलीधर केडिया सहित कई वरिष्ठ नेता गण उपस्थित थे ।

इंडिया गठबंधन के प्रत्याशी समीर मोहंती के पक्ष https://yash24khabar.com/satyam-singh-launched-a-public-relations-campaign-in-bhalubasa-in-favor-of-india-alliance-candidate-sameer-mohanty-22114/में भालूबासा में सत्यम सिंह ने चलाया जनसंपर्क अभियान।


Discover more from Yash24Khabar

Subscribe to get the latest posts sent to your email.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed

Discover more from Yash24Khabar

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading