एग्रिको ट्रांसपोर्ट मैदान में राधा स्वामी सत्संग  पंजाब, के परमसंत बाबा परमजीत सिंह जी महाराज ने सत्संग फरमाया। बाबा जी ने गुरुग्रंथ साहब से पंचम पातशाही श्री गुरु अर्जुन देव जी महाराज की बाणी की व्याख्या की। आपने फरमाया कि आत्मा परमात्मा की अंश है और परमात्मा से बिछड़ी हुई है। इसीलिए दुखी हैं। परमात्मा से ये तभी मिल सकती है यदि इसे कोई पूर्ण सद्गुरु मिले और परमात्मा से मिलने की राह बताएं। इसके लिए हमें गुरु पर पूर्ण विश्वास होना चाहिए, उनसे प्रेम होना चाहिए।

imagename

बिना प्रेम और विश्वास के हम सतगुरु का प्यार नहीं पा सकते हैं और जब तक सतगुरु दया नहीं करेंगे, नाम दान के बक्शीश नहीं करेंगे और उनके द्वारा बताये गए विधि से हम उस नाम का जाप नहीं करेंगे, तब तक हम परमात्मा से मिलने के काबिल नहीं बन सकते हैं। क्योंकि हमारे अंदर बहुत से विकार भरे पड़े हैं। जिसमे काम, क्रोध, लोभ, मोह और अहंकार मुख्य हैं।

ये विकार तभी दूर होगें जब हम संत सद्गुरु से दीक्षा लेकर उनके बताए हुए तरीका के अनुसार भजन और सिमरण करेंगें। महाराज जी ने विशेष रूप से प्रेम पर बहुत ही ज़ोर दिया। सतसंग में 10,000 से अधिक संख्या में श्रद्धालु जमा हुए थे। सबने सतसंग से लाभ उठाया। सत्संग के उपरांत प्रसाद वितरण का एवं लंगर का कार्यक्रम हुआ तथा महाराज जी ने दर्शन दिए। उसके बाद गुरु के लंगर की व्यवस्था की गई थी जिसका सभी श्रद्धालुओं ने लाभ उठाया।सत्संग की सारी व्यवस्था श्री विक्रम शर्मा जी के द्वारा की गई थी जिसमे जमशेदपुर के सेवादारों का भी बहुत योगदान रहा ।


Discover more from Yash24Khabar

Subscribe to get the latest posts sent to your email.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Discover more from Yash24Khabar

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading