बोकारो में साइबर अपराधियों के एक संगठित गिरोह का पर्दाफाश करते हुए बोकारो पुलिस ने गिरोह के 16 लोगों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से 45 मोबाइल फोन, 13 पीस स्पेयर सिम कार्ड, 1320 कूपन कार्ड, 3020 विनर लेटर सहित ₹100 ₹50 और ₹200 के नकली नोट भी बरामद किए गए हैं ।आम लोगों को झांसा में डालकर ठगी का शिकार करने वाला यह गिरोह बोकारो के बारी कोऑपरेटिव कॉलोनी और मनमोहन सिंह कोऑपरेटिव कॉलोनी से पकड़ा गया। यह सभी साइबर अपराधी बिहार के नवादा, नालंदा और जमुई का रहने वाला बताए गए हैं। यह मुद्रा लोन दिलाने ,लॉटरी की राशि भेजने तथा स्क्रैच कार्ड से लोक लुभावन तरीके से आम लोगों को प्रभावित करता था और फिर उन्हें चूना लगा देता था। अंतर प्रांतीय स्तर पर इस गिरोह के तार जुड़े पाए गए हैं, जिसकी जांच पुलिस कर रही है। फिलहाल पुलिस को जानकारी मिली है कि पटना से बैठकर इस गिरोह का सरगना सुमित इन साइबर अपराधियों को निर्देश देता था और इंस्टाग्राम फेसबुक तथा उन सोशल प्लेटफॉर्म पर तरह-तरह का प्रलोभन देकर लोगों को लखपति बनाने और उनकी दशा और दिशा सुधारने की बात करता था और फिर उनकी गाढी कमाई को कई तरह से लूट लेता था। एक लंबे समय से पुलिस साइबर अपराधियों की कारस्तानी से परेशान थी और आम लोग इसके झांसी में आकर अपनी गाढ़ी कमाई लुटवा रहे थे। पर अब पुलिस ने इसके 16 लोगों को गिरफ्तार कर काफी हद तक साइबर अपराध पर अंकुश लगाने का दावा किया है। पुलिस अब इस मामले की जांच कर रही है कि इन अपराधियों के पास नकली नोट कहां से आए और नकली नोट के कारोबार से किस तरह से गिरोह जुड़ा हुआ था।

imagename

कुलदीप कुमार, सिटी डीएसपी बोकारो ।


Discover more from Yash24Khabar

Subscribe to get the latest posts sent to your email.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Discover more from Yash24Khabar

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading